प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना- देश के सभी असंगठित मजदूरो को प्रतिमाह मिलेगी 3,000 रुपए की पेंशन

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना- भारत सरकार ने अपने देश के असंगठित मजदूरो की सामाजिक सुरक्षा का ध्यान रखते हुए प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना को जारी किया है इस योजना को खासतौर पर असंगठित मजदूरो की सहायता हेतु शुरू किया गया है। इस योजना के जरिये देश के असंगठित मजदूरो को पेंशन के रूप में वित्तीय सहायता प्रदान की जायेगी।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना- Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

यह एक पेंशन योजना है जो खासतौर पर राज्य के असंगठित मजदूरो के लिए चलाई गई है इस योजना का उद्देश्य असंगठित मजदूरो को उनकी वृद्धावस्था की उम्र में पेंशन के रूप में आर्थिक मदद प्रदान करना है। जैसे की आप सभी जानते है वृद्धावस्था एक ऐसी अवस्था है जब व्यक्ति शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोर पड़ जाता है जिसके कारण उसके काम करने की शमता कम हो जाती है ऐसे में एक गरीब असंगठित मजदूर के लिए वृधावस्था में काम न करने से उसके परिवार की आर्थिक स्थिति पर बुरा प्रभाव पड़ता है। उसके लिए अपनी तथा अपने घर की जिम्मेदारियों को उठाना मुश्किल हो जाता है

हरियाणवी डांसर सपना चौधरी एक डांस शो के लिए लेती हैं कितनी फीस जानें

ऐसे ही असहाय गरीब असंगठित मजदूरो की परेशानियों को समझते हुए केंद्र सरकार ने यह प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना को जारी किया है। इस योजना के माध्यम से मिलने वाली पेंशन राशि से असंगठित मजदूरो को अपना बाकी जीवन आसानी से बिताने में मदद मिलेगी और उन्हें किसी भी प्रकार की आर्थिक परेशानियों का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस योजना में आवेदन करने असंगठित मजदूरो इस योजना का लाभ उठा सकता है।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लाभ- Benefits Of Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

  • लाभार्थी असंगठित मजदूरो को 60 वर्ष की आयु से मिलनी शुरू होगी पेंशन।
  • इस योजना के तहत लाभार्थी असंगठित मजदूरो को कुल 3,000 रुपए की राशि प्रतिमाह पेंशन के रूप में प्राप्त होगी।
  • असंगठित मजदूरो को इस योजना के अंतर्गत बुढ़ापे में मिलेगी आर्थिक मदद
  • यदि पेंशन अवधि के दौरान किसी कारणवश असंगठित मजदूर की मृत्यु हो जाती है तो ऐसे में पति या पत्नी को पारिवारिक पेंशन मिलनी शुरू हो जाएगी।
  • इस योजना की लाभार्थी सूचि में ज्यादातर रिक्शा चालक, स्ट्रीट वेंडर, मिड-डे मील वर्कर, हेड लोडर, ईंट भट्ठा वर्कर, कॉबलर, रैग पिकर, घरेलू कामगार, वॉशर मैन, घर-घर काम करने वाले, खुद के अकाउंट वर्कर, एग्रीकल्चर वर्कर, कंस्ट्रक्शन वर्कर आदि शामिल हैं।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के पात्रता- Eligibility Of Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

  • इस योजना की पात्रता सूचि में शामिल होने के लिए आवेदक का असंगठित क्षेत्र का श्रमिक होना जरूरी है।
  • केवल 18 वर्ष से 40 वर्ष के बीच की आयु के असंगठित मजदूर इस योजना के लिए पात्र होंगे।
  • इस योजना में आवेदन करने वाले असंगठित मजदूरो की आय 15,000 या उससे कम होनी चाहिए।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में कितना करना होगा योगदान- How Much Contribution Will Be Made In The Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदको को सरकार को कुछ योगदान प्रतिमाह देना होगा जो की उम्र के आधार पर लिए जाएगा। जो इस प्रकार होगा-

  • 18 वर्ष की उम्र में जुड़ने वाले कामगार असंगठित मजदूरों को प्रतिमाह 55 रुपये की राशि अपने बैंक अकाउंट में जमा करनी होगी।
  • इसके अलावा 29 वर्ष की उम्र में जुड़ने वाले कामगार असंगठित मजदूरों को प्रतिमाह 100 रुपये की राशि जमा करनी होगी।
  • इसी प्रकार 40 वर्ष की आयु के कामगार असंगठित मजदूरों को प्रतिमाह 200 रुपये की राशि का योगदान देना होगा।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज- Essential Documents For Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • आवेदक का बैंक अकाउंट

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए आवेदन- Application For Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए असंगठित क्षेत्र के कर्मचारियों को नजदीकी कॉमन सर्विसेज सेंटर (CSC) में जाना होगा और वहां अपने जरुरी दस्तावेजो आधार कार्ड और बैंक डिटेल्स के साथ इस योजना का आवेदन फार्म भरकर जमा करना होगा।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *