डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म ऑनलाइन पंजीकरण [ऑफिसियल वेबसाइट]

आप (डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म) Digitize India Platform Online Registration से आप ऑनलाइन पैसे  कैसे कमा सकते  हो आपको ये भी बताया जाएगा की डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफॉर्म ऑनलाइन पंजीकरण और डाटा एंट्री पर काम करके  कैसे आपको पैसे प्रदान करेगा और डाटा एंट्री कार्य, पात्रता मानदंड, लाभ, ऑनलाइन आमदनी, हेल्पलाइन नंबर, वीडियो, यह कैसे काम करता है,चरणबद्ध ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया की पूरी जानकारी।

डिजिटाइज़ इंडिया क्या है 

डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफॉर्म की शुरुआत भारत सरकार द्वारा चालू  की गई है डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के अंतर्गत एक पहल है और कोई भी विभाग इस कार्यक्रम में मिलकर अपने कागजातों को डिजिटल कर सकता है इस कार्यक्रम का मुख्य उदेस्य है की सरकारी कामों में विकास होना इस डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफॉर्म के अंतर्गत इस कार्यक्रम की शुरुआत 1 जुलाई 2015 को हुई थी | 

  • डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म (डीआईपी) काम कैसे करता है?
  • डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म (डीआईपी) विभिन्न सरकारी संगठनों से विभिन्न छवियों में डेटा एकत्रित करता है।
  • काम करने के लिए contributor को यह डिजिटल छवि दी गई है।
  • Digitial contributor प्रकार छवि में दिए गए शब्द।
  • उसके बाद, कंप्यूटर प्रोग्राम शब्दों की जांच करता है, सही प्रविष्टियां इनाम अंक मिलती हैं।
  • फिर, डीआईपी का कार्यक्रम उन्हें एकत्र करता है और संबंधित विभाग को भेजता है।

डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म ऑनलाइन पंजीकरण के लिए पात्रता मानदंड

  • आवेदक भारत का नागरिक होना चाहिए।
  • कंप्यूटर का ज्ञान होना आवश्यक है।
  • आधार कार्ड अनिवार्य है।
  • आधार संख्या से जुड़े बैंक खाते और जिसमें आप पैसे प्राप्त करना चाहते हैं।
  • स्मार्ट डिवाइस (जैसे कंप्यूटर, टैबलेट, स्मार्टफ़ोन, आदि)।
  • इसके अलावा, आपको यह काम करने के लिए शैक्षणिक प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं है।

डिजिटाइज़ इंडिया पर अगर आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो यहाँ क्लिक करें

डिजिटाइज़ इंडिया प्लेटफार्म पर रजिस्टर करने की पूरी जानकारी जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

You May Also Like

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *