मंडी सभाओं से जुड़ी फाइल को लेकर सीएम केजरीवाल और एलजी के बीच ठनी

दिल्ली की छह प्रमुख मंडियों की कमेटी गठित करने संबंधी फाइल उपराज्यपाल द्वारा दिल्ली सरकार को लौटाए जाने संबंधी सूचना लीक होने पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कड़ा एतराज जताया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उप-राज्यपाल कार्यालय पर मुख्यमंत्री को भेजी जाने वाली फ़ाइलों को लीक करने का आरोप लगाया है। अरविंद केजरीवाल ने उप-राज्यपाल अनिल बैजल को चिट्ठी लिखकर यह सवाल पूछा है कि उप राज्यपाल के कार्यालय से मुख्यमंत्री कार्यालय को भेजी जाने वाले फाइल की कॉपी बीजेपी को पहले भेजना कितना उचित है।

मुख्यमंत्री ने लिखा है कि 14 जून यानी बुधवार को कुछ समाचार पत्रों में विधानसभा में नेता विपक्ष विजेंद्र गुप्ता के हवाले यह खबर छपी है कि मंडियों की कमेटी गठित करने संबंधी फाइल उपराज्यपाल ने लौटा दी है। अरविंद केजरीवाल ने पत्र में लिखा है कि फाइल लौटाने संबंधी जानकारी उन्हें 13 जून की शाम को मिली।

इस संदर्भ में उपराज्यपाल के आदेश की प्रति में सिर्फ मुख्यमंत्री को सूचना भेजने की जानकारी थी। बावजूद इसके नेता विपक्ष तक कैसे जानकारी पहुंची यह जांच का विषय है।

दरअसल केजरीवाल सरकार द्वारा दिल्ली में अलग-अलग जगहों पर मंडी सभाओं के गठन की अनुमति की फाइल उप-राज्यपाल अनिल बैजल ने केजरीवाल सरकार को लौटा दी थी और उनसे पूछा था कि क्या इसमें मंडी सभाओं में चयन के लिए सभी प्रक्रियाओं का पालन हुआ है। मंडी सभाओं के गठन के केजरीवाल सरकार के फैसले के खिलाफ नेता विपक्ष और बीजेपी नेता विजेंद्र गुप्ता उप-राज्यपाल से मिले थे और मामले में नियमों की अवहेलना का आरोप लगाया था।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *