बातचीत से निकलेगा राम मंदिर का समाधान-योगी आदित्यनाथ

अयोध्या दौरे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राम मंदिर विवाद का समाधान बातचीत से निकाला जाए। उन्होंने कहा कि यूपी सरकार मंदिर निर्माण के लिए हर स्तर पर मदद करने के लिए तैयार है। साथ ही उन्होंने कहा कि कई मुस्लिमों ने राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि देने के बात कर एकता का संदेश दिया। योगी ने कहा कि मंदिर निर्माण के लिए देश में एक नया माहौल बना है।

योगी आदित्यनाथ महंत नृत्य गोपाल दास के 79वें जन्मोत्सव कार्यक्रम शामिल हुए. इस कार्यक्रम में राममंदिर के मुद्दे पर सीएम आदित्यनाथ ने कहा, “अयोध्या में राममदिर का हल बातचीत से निकालेंगे, यूपी सरकार बातचीत के लिए हरसंभव प्रयास करेगी। सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा है कि इस मसले का हल बातचीत के जरिए निकाला जाए।”

अयोध्या के विकास कार्यों के लिए योगी सरकार ने 350 करोड़ रुपये दिए। इसके अलावा सड़क निर्माण के लिए 50 करोड़ रुपये अलग से देने की भी बात कही। योगी आदित्यनाथ ने विशाल सरयू महोत्सव के आयोजन करने की बात कही और घाटों को दुरुस्त करने और इसके विशेष रखरखाव के भी निर्देश दिए। उन्होंने वाराणसी में होने वाली गंगा आरती की तर्ज पर अयोध्या में सरयू आरती का भी आयोजन किया जाए।

बता दें कि योगी आदित्यनाथ बतौर मुख्यमंत्री राम लला के दर्शन  करने वाले उत्तर प्रदेश के दूसरे मुख्यमंत्री हैं। इससे पहले बतौर मुख्यमंत्री राजनाथ सिंह 2002 में अयोध्या गये थे। 1991 में हुए बाबरी विध्वंस के बाद राम लला के दर्शन करने वाले वह दूसरे मुख्यमंत्री हैं।

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *